दरौंदा विस उपचुनाव को लेकर चुनाव कर्मियों का प्रशिक्षण शुरू

सीवान ।109-दरौंदा विस उपचुनाव-2019 के लिए मंगलवार से प्रशिक्षण का सिलसिला आरंभ हो गया। शहर के डायट भवन व मोती स्कूल एमएस कचहरी में पहले चरण का पहला चुनावी प्रशिक्षण पीओ, पी-वन, पी-टू व पी-थ्री पदों पर प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों को दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान मोती स्कूल में प्रशिक्षक रितेश कुमार व अमित कुमार वर्मा ने मतदान कर्मियों को बताया कि ’जानकारी ही सफलता की कुंजी’ है। इसलिए मतदान के दौरान बरती जाने वाली सावधानियां व प्रशिक्षण में दिए गए निर्देश को बारीकी से समझना चाहिए। मास्टर ट्रेनर राकेश कुमार ने संबंधित पदाधिकारियों को उनके अधिकार व कर्तव्यों के बारे में बताया। उन्होंने पीठासीन पदाधिकारियों को विभिन्न प्रपत्रों को भरने की जानकारी दी। प्रशिक्षक अजीत कुमार शर्मा ने प्रशिक्षणार्थियों को टीम भावना और साकारत्मक सोच के साथ कार्य करने के लिए प्रेरित किया।

वही डायट में मास्टर ट्रेनर मुकेश कुमार व राधेश्याम सिंह ने मतदान केंद्रों में होने वाली प्रक्रिया, निविदत्त मत, प्रॉक्सी मतदाता, दिव्यांग मतदान के लिए सुगम मतदान प्रक्रिया, वीवीपैट, सीयू और बीयू को जोड़ मॉकपोल, औपचारिक और अनौपचारिक पहचान पर्ची, मतदाता द्वारा मत नहीं देने का निर्णय, मतपत्र लेखा तैयार करना, वीवीपैट, सीयू और बीयू मशीन खराब होने पर बदलने की प्रक्रिया और अन्य बिंदुओं पर विस्तार से प्रशिक्षण दिया। वीवीपैट, सीयू और बीयू को जोड़ मॉकपोल करने आदि का व्यवहारिक रूप से उपयोग करना भी सिखाया । शहर के डायट भवन में नोडल मास्टर ट्रेनर विश्वमोहन कुमार सिंह व सहायक नोडल कुमार राजकपूर और मोती स्कूल एमएस कचहरी में नोडल मास्टर ट्रेनर वीरेंद्र कुमार पाण्डेय व सहायक नोडल संतोष कुमार के मार्गदर्शन में चुनाव कर्मियों को उनके कर्तव्यों व अधिकारों से अवगत कराने का कार्य प्रगति पर है। चुनाव कर्मियों का प्रशिक्षण तीन चरणों में चलेगा। पहले चरण का प्रशिक्षण जारी है। प्रशिक्षण कोषांग द्वारा जारी शेड्यूल में 2 अक्टूबर को प्रशिक्षण नहीं है।

गुरुवार को प्रतिनियुक्त कर्मी पीओ, पी-1,पी-2 व पी- 3 का प्रशिक्षण लेना सुनिश्चित करेंगे। शुक्रवार को पहले चरण का प्रशिक्षण संपन्न होगा। वहीं दूसरे चरण का प्रशिक्षण नौ, दस व ग्यारह को होना तय है। जबकि तेरह, चौदह व 15 अक्टूबर को मतदान पार्टियों के मिलान के बाद प्रशिक्षण का समापन होगा। मोती स्कूल में 450 में 438 प्रशिक्षणार्थी प्रशिक्षण में शामिल हुए। जबकि 12 नदारद पाए गए। नोडल मास्टर ट्रेनर वीरेंद्र कुमार पांडेय ने प्रशिक्षण स्थल पर लगभग 98 फीसदी प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण लेने की बात बताई।सीवान ।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: