siwansamachar

Samachar Tej Raftar Se

Exit Poll परिणामों का प्रभाव
News

EXIT POLL परिणामों का प्रभाव | Market Ne Kia 2% Ka Shoot Up

उत्साह और अपेक्षाएँ

एग्जिट पोल के परिणाम आने के बाद बाजार में काफी उत्साह और अपेक्षाएँ देखी जाती हैं। निवेशक और व्यापारी यह अनुमान लगाने की कोशिश करते हैं कि बाजार किस दिशा में जाएगा। एग्जिट पोल अगर बीजेपी की स्पष्ट जीत दिखाता है, तो बाजार में सकारात्मकता देखी जा सकती है। इससे निवेशकों का विश्वास बढ़ता है और बाजार में तेजी का माहौल बनता है।

सोमवार की बाजार रैली

एग्जिट पोल के परिणामों के बाद सोमवार को बाजार में रैली देखने को मिल सकती है, जो व्यापारिक अवसर प्रदान कर सकती है। अगर एग्जिट पोल बीजेपी को बहुमत देते हैं, तो निफ्टी में 200-250 अंकों की और बैंक निफ्टी में 700-800 अंकों की बढ़त देखी जा सकती है।

बाजार अस्थिरता और जोखिम

परिणामों के बाद बाजार में अस्थिरता के कारण पैसे खोने का जोखिम भी होता है। अगर एग्जिट पोल के नतीजे अस्थिर या विवादास्पद होते हैं, तो बाजार में उतार-चढ़ाव बढ़ सकता है।

मजबूत रैली की संभावना


बीजेपी की सीटें और बाजार पर प्रभाव:

  • 300+ सीटें: निफ्टी में 300-400 अंकों की तेजी और बैंक निफ्टी में 1000-1200 अंकों की तेजी देखी जा सकती है।
  • 250-300 सीटें: निफ्टी में 200-250 अंकों की और बैंक निफ्टी में 700-800 अंकों की बढ़त हो सकती है।
  • 200-250 सीटें: निफ्टी में 100-150 अंकों की और बैंक निफ्टी में 500-600 अंकों की बढ़त हो सकती है।


वोलाटिलिटी इंडेक्स (VIX) का प्रभाव:

  • VIX का नेगेटिव होना: अगर VIX कम होता है, तो बाजार में स्थिरता का संकेत मिलता है और निवेशकों का विश्वास बढ़ता है, जिससे बाजार में तेजी आ सकती है।
  • VIX का पॉजिटिव होना: अगर VIX बढ़ता है, तो बाजार में अस्थिरता और जोखिम का संकेत मिलता है, जिससे निवेशक सतर्क हो सकते हैं और बाजार में गिरावट देखी जा सकती है।


रणनीतिक सुझाव


1. शॉर्ट पोजीशन और बुकिंग:

बेहतर जोखिम प्रबंधन के लिए 50,000 के आसपास बुलिश पोजीशन बुक करने और शॉर्ट पोजीशन पर विचार करना चाहिए। शॉर्ट पोजीशन की अपेक्षा 200-300 अंकों की गिरावट की जा सकती है।

2. पुट ऑप्शंस:

अगर बाजार में गिरावट होती है तो पुट ऑप्शंस लाभदायक साबित हो सकते हैं। निफ्टी में 400-500 अंकों की गिरावट पर पुट ऑप्शंस से अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है।

3. वोलाटिलिटी के लिए तैयार रहें:

चुनाव परिणामों के आधार पर बाजार में तीव्र बदलाव की संभावना रहती है। वोलाटिलिटी के आधार पर ट्रेडिंग रणनीतियों को तैयार करना चाहिए।

4. सोमवार-मंगलवार-बुधवार के लिए सावधानी:

चुनाव के बाद के दिनों में, विशेष रूप से सोमवार, मंगलवार और बुधवार को सावधानीपूर्वक व्यापार करना चाहिए।

5. बीटीएसटी (Buy Today, Sell Tomorrow) और लॉन्ग पोजीशन्स:

  • बीटीएसटी: अगर किसी ने BTST ले रखी है, तो चुनाव परिणामों के आधार पर तेजी या गिरावट की उम्मीद में पोजीशन को जल्दी बुक कर लेना चाहिए।
  • लॉन्ग पोजीशन्स: लॉन्ग कॉल या पुट होल्ड कर रखे निवेशकों को VIX और बाजार की दिशा को ध्यान में रखते हुए अपने पोजीशन्स को मैनेज करना चाहिए।


सावधानियाँ

  • प्री-इलेक्शन डे: प्री-इलेक्शन डे पर प्रॉफिट बुकिंग करना एक अच्छा विकल्प हो सकता है।
  • प्रॉफिट बुकिंग: चुनाव परिणामों से पहले और बाद में मुनाफे को बुक करना जोखिम को कम कर सकता है।


बाजार के इतिहास से सीख


1. निफ्टी और बैंक निफ्टी में संभावित गिरावट:

अगर बीजेपी स्पष्ट विजय नहीं पाती है, तो निफ्टी में 400-500 अंकों की गिरावट और बैंक निफ्टी में 5000-6000 अंकों की गिरावट हो सकती है।

2. बाजार की सीमा:

बाजार 22900-24450 की सीमा में रह सकता है।

3. प्रीमियम्स में वृद्धि:

परिणामों के आस-पास प्रीमियम्स में वृद्धि देखने को मिल सकती है, जिससे पोजीशन को मैनेज करना आवश्यक हो जाता है।

4. पिछली चुनावों का डेटा:

  • 2014: बीजेपी की बड़ी जीत के बाद निफ्टी में 500 अंकों की तेजी आई थी।
  • 2019: बीजेपी की स्पष्ट जीत के बाद निफ्टी में 400 अंकों की बढ़त देखी गई थी।

इस प्रकार, चुनावी परिणामों के समय सावधानीपूर्वक रणनीति बनाना और बाजार के ऐतिहासिक डेटा का विश्लेषण करना निवेशकों के लिए लाभदायक साबित हो सकता है।

इसके बारे में अधिक पढ़ें:- क्या ₹1000 करोड़ से भी ज्यादा में होगा अनंत अंबानी का प्री-वेडिंग शूट? जो कहलाएगा “Ambani Gala 2.0”