मुहर्रम के जुलूस में डीजे बजाने पर प्रतिबंध, अखाड़ा समिति व डीजे संचालक पर लगाया जाएगा जुर्माना

मुहर्रम के जुलूस में डीजे बजाने पर रहेगा प्रतिबंध, अखाड़ा समिति व डीजे संचालक दोनों पर लगाया जाएगा जुर्माना : मुहर्रम पर निकलने वाले जुलूस में डीजे बजाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा। डीजे बजाने पर अखाड़ा समिति व डीजे संचालक दोनों पर जुर्माना लगाया जाएगा। साथ ही पारंपरिक हथियारों के प्रदर्शन व हाथी, ऊंट ले जाने पर भी रोक रहेगा। ये बातें गुरुवार को अनुमंडलीय शांति समिति की बैठक में एसडीएम राजेश रौशन ने की।

बैठक में शिया व सुन्नी समुदाय के सदस्यों के अलावा विभागीय अधिकारी व शांति समिति के सदस्य शामिल हुए। सदस्य कलीम इमाम ने करबला की सफाई, नमामि गंगा प्रोजक्ट के तहत जहां-तहां बने गड्ढे को भरने, पहलाम के दिन पुलिस गश्ती बढ़ाने, अशोक राजपथ पर वाहनों का आवागमन रोकने, करबला मैदान के आसपास हुए अतिक्रमण को हटाने समेत अन्य मुद्दों को उठाया। शिया समुदाय के जंजीरी मातम जुलूस में पानी का टैंकर समेत जुलूस के पीछे डॉक्टरों की एक टीम जीवन रक्षक दवाइयों के साथ उपलब्ध रहेगी।

जुलूस निकालने को लेनी होगी अनुमति : मुहर्रम को लेकर जिले के थानाध्यक्ष व पुलिस पदाधिकारी मुस्तैद रहे। कहीं से कोई गड़बड़ी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। अगर गड़बड़ी होती है, गश्ती में लापरवाही सामने आती है तो थानाध्यक्ष जिम्मेवारी
होंगे। यह आदेश गुरुवार को अपराध नियंत्रण को लेकर हुई बैठक में वरीय पुलिस अधीक्षक राजीव मिश्रा ने दी है। उन्होंने कहा कि अपने-अपने थाना क्षेत्र में मुहर्रम को लेकर तैयारी का जायजा भी ले। आयोजकों को ताजिया, जुलूस, अखाड़ा, डीजे
को लेकर पूर्व के निर्देशों से अवगत करा दें। डीजे पर पूर्ण रूपेण प्रतिबंध रहेगा। डीजे बजाने की अनुमति नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जुलूस निकालने के लिए आयोजकों को थाना में आवेदन जमा करना अनिवार्य होगा। उसके आधार पर
स्थलीय जांच कराने के बाद जुलूस निकालने की अनुमति दी जाएगी। एसएसपी ने कहा कि सभी थानाध्यक्ष अपने-अपने क्षेत्र में दो तरह की वीडियोग्राफी कराएंगे। पहला वैसा जुलूस जो संवेदनशील है। दूसरा संवेदनशील स्थल।

समीक्षा के दौरान एसएसपी ने कहा कि दो दिनों में थानाध्यक्ष अपने स्थानीय जनप्रतिनिधि के साथ मॉव लिचिंग जैसी घटना को लेकर बैठक करेंगे। उन्हें यह समझाएंगे कि किसी भी हाल में कानून को अपने हाथ में नहीं लेंगे। बच्चा चोरी
सहित अन्य कोई घटना को अंजाम देने वाले पकड़ा जाता है, तो तुरंत पुलिस को सूचना दे। कोई व्यक्ति अपने स्तर से कानून के तहत कार्रवाई करता है, तो उस पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। एसएसपी ने इमामगंज के सुहैल थानाध्यक्ष को
500 रुपये पुरस्कृत करने की घोषणा किया। थानाध्यक्ष ने मॉव लिचिंग के मामले में त्वरित गति से कार्रवाई करते हुए 9 व्यक्ति को गिरफ्तार कर जेल दिया था। समीक्षा बैठक में पूर्व में लंबित मामलों को त्वरित गति से निष्पादन करने,
कुर्की-जब्ती, अनुसंधान में तेजी लाने का निर्देश दिया गया।

#Siwan hindi news, #Siwan hindi Samachar, #Siwan News

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: