इस्तीफा पूर्वनियोजित, केंद्र के आदेश पर विजय रूपाणी ने छोड़ा गुजरात सीएम का पद : BJP सूत्र

गुजरात में विजय रूपाणी के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद सियासी चर्चाओं का बाजार गरम है. गुजरात में नए सीएम के नाम को लेकर कयासबाजी का दौर जारी है.

नई दिल्ली: गुजरात (Gujarat) में विजय रूपाणी (Vijay Rupani) के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद सियासी चर्चाओं का बाजार गरम है. गुजरात में नए सीएम के नाम को लेकर कयासबाजी का दौर जारी है. इस बीच पीएम मोदी के बेहद करीबी माने जाने वाले नेता प्रफुल्ल खोड़ा पटेल के नाम की चर्चाएं तेज हैं. बीजेपी सूत्रों ने बताया कि प्रफुल्ल खोड़ा पटेल और परसोत्तमभाई रूपला में से किसी एक को गुजरात का अगला सीएम बनाया जा सकता है. साथ ही सूत्रों ने यह भी बताया कि केंद्र के दिशा निर्देश पर विजय रूपाणी ने गुजरात के सीएम पद से इस्तीफा दिया है. गुजरात में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा शक्तिशाली पटेल समुदाय को खुश करने के लिए दाव-पेच लगा रही है.

बता दें कि आज शनिवार को भाजपा के गुजरात प्रभारी भूपेंद्र यादव से मुलाकात के बाद विजय रूपाणी ने सीएम पद से इस्तीफा दे दिया. इस्तीफे की योजना केंद्र के आदेश के तहत की गई है. इस मौके पर 2 वरिष्ठ मंत्री, राज्य प्रभारी और पार्टी महासचिव पहले से मौजूद थे. मनसुख मंडाविया और पी रूपाला उपस्थित वहां मौजूद थे इसके साथ ही बीएल संतोष और भूपेंद्र यादव ने भी बैठक की.

सूत्रों ने यह भी बताया कि मुख्यमंत्री पद के लिए संभावित नामों मंडाविया और नितिन पटेल के भी नाम हैं. मनसुख मंडाविया को हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री बनाया गया है. वहीं नितिन पटेल गुजरात के उप मुख्यमंत्री हैं.

बता दें कि विजय रूपाणी ने गुजरात के मुख्यमंत्री के पद से इस्तीफा देने के बाद कहा कि मुझे यह मौका देने के लिए मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभारी हूं और उन्हें धन्यवाद देता हूं. रूपाणी ने कहा कि गुजरात के विकास को एक नेतृत्व में आगे बढ़ना चाहिए. रूपाणी ने कहा, ”मेरा मानना है कि गुजरात के विकास की यात्रा नए नेतृत्व, नए उत्साह और नई ऊर्जा के साथ आगे बढ़नी चाहिए. इसी को ध्यान में रखते हुए मैंने गुजरात के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया है.” रूपाणी ने कहा, “मैं आभारी हूं कि मेरे जैसे पार्टी कार्यकर्ता को गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में सेवा करने का महत्वपूर्ण मौका दिया गया.” उन्होंने कहा, “मेरे पूरे कार्यकाल में मुझे माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मार्गदर्शन मिला. मैं राज्य के विकास में योगदान देने के अवसर के लिए माननीय प्रधानमंत्री का आभारी हूं.”