मई के मध्य से आखिर तक कोरोना वायरस के मामले नीचे आ सकते हैं: कांग

टीके के बारे में डर दूर करते हुए उन्होंने कहा कि वे प्रभावी हैं और टीकाकरण अभियान में तेजी लाने की जरूरत है.

नई दिल्ली: मशहूर टीका विशेषज्ञ गगनदीप कांग (Gagandeep Kang) ने कहा है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) मामलों में मौजूदा वृद्धि मई के मध्य से आखिर तक नीचे आ सकती है. कांग ने कहा कि कोरोना वायरस मामलों में एक या दो और उछाल आ सकती है लेकिन शायद यह वर्तमान दौर जैसा बुरा नहीं होगा. उन्होंने कहा कि फिलहाल यह उन क्षेत्रों में जा रहा है जहां वह पिछले साल नहीं पहुंचा यानी मध्य वर्ग को अपना शिकार बना रहा है, ग्रामीण क्षेत्र में अपना पैर पसार है लेकिन वायरस के जारी रहने के आसार कम हैं. टीके के बारे में डर दूर करते हुए उन्होंने कहा कि वे प्रभावी हैं और टीकाकरण अभियान में तेजी लाने की जरूरत है. कांग ने कोरोना वायरस की जांच में गिरावट पर चिंता प्रकट की और कहा कि (कोविड-19) के मामलों का अनुपात जांच से प्राप्त आंकड़ों से कहीं ज्यादा हैं. उन्होंने भारतीय महिला प्रेस कोर द्वारा आयोजित वेबीनार में एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘ विभिन्न मॉडलों के अनुसार (मामलों के नीचे आने का) सबसे सही अनुमान माह के मध्य और आखिर के बीच कहीं हैं. हालांकि कुछ मॉडलों के अनुसार यह जून के प्रारंभ में होगा, लेकिन हम जो देख रहे हैं , उसके अनुसार यह मई के मध्य से आखिर तक(का अनुमान) है. ”

वायरस की लहरों के बारे में अनुमान के संबंध में कांग ने कहा कि कोई भी व्यक्ति यह अनुमान लगाने के लिए (वायरस की) किस्म की विशेषता और महामारी की विभिन्न बातों का इस्तेमाल कर सकता कि किसी खास स्थान पर क्या होने जा रहा है बशर्ते कि आंकड़ा गणितीय प्रतिमान फलक के स्तर पर उपलब्ध हो. जब उनसे इस वायरस के भविष्य के बारे में पूछा गया तो उन्हेांने कहा, ‘‘ यह वाकई बुरे फ्लू वायरस की भांति मौसम सापेक्ष हो जाएगा. यह अधिक मौसम सापेक्ष जैसा कुछ हो जाएगा , यह शांत हो जाएगा और यह कि लोग बार बार की प्रतिरोधकता एवं टीकाकरण के कारण एक निश्चित स्तर तक प्रतिरोधक क्षमता हासिल कर लेंगे. ”